मंगलवार, 10 नवंबर 2009

दोहरा चरित्र नहीं तो क्या


महाराष्ट्र विधानसभा में जिस महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना एमएलए ने हिंदी में शपथ लेने वाले समाजवादी पार्टी एमएलए अबु आजमी •क्ो पीटा, उसी दल •क् एमएलए राम क्दम ने टीवी चैनलों से बातचीत में आजमी पर हमला और थप्पड़ क्ी घटना सही बताने ऊंचे स्वर में हिंदी में बोले।
राम •क्दम ने यह बयान घटना •क्े थोड़ी देर बाद ही टीवी चैनलों से बातचीत में दिया। वे विधानसभा में हुई घटना में भी शामिल थे। वे विधानसभा क्े भीतर मराठी में नारे लगा रहे थे और हिंदी में शपथ लेने वाले आजमी क्े साथ अभद्रता क्े साक्षी थे। जब वे हिंदी में शपथ लेने उचित नहीं मानते तो फिर टीवी चैनल में हिंदी में बयान देते समय वे भूल गए थे। पहले उत्तर भारतीयों पर हमला और अब ंिहंदी में शपथ न लेने क्ा दबाव •िक्स लिए? यह महज राजनीति नहीं है?
- रवींद्र क्ैलासिया

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक